चलो एक घरौंदा बनाए

Spread the love

चलो एक घरौंदा बनाए
पत्थर का नहीं,
सपनों का
अपनों का ।

खेतों में
चिड़िया संग,
जहां बसर
हो
प्यार का ।

जहां न
तुम हो

मैं हूँ
जहां बसे
हम।

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *